Tuesday, August 11, 2009

सिक्किम में अब बंजी जंप की कवायद


from dainik jagaran

जागरण प्रतिनिधि, गंगटोक : खतरनाक खेल बंजी जंप को सिक्किम में विकसित करने की कवायद शुरू हो गयी है। इसके तहत पश्चिम सिक्किम जिला के देंताम स्थित 650 फीट गहरे तथा 660 फीट चौड़े सिंगसोर पुल का प्रयोग किया जायेगा। यहां पर साहसिक खेल बंजी जंप को व्यवसाय के रूप में विकसित किया जायेगा। इसके लिए स्थान विकास तथा प्रशिक्षित लोगों को तैयार करने के लिए राज्य का पर्यटन विभाग आर्थिक सहयोग कर रहा है। बंजी जंप का हुनर हासिल करने के लिए राज्य के विकास कार्यक्रम के तहत पर्यटन विभाग ने प्रजा बहादुर प्रधान को चयनित किया है। उन्हें नेपाल-तिब्बत सीमा खासा स्थित भोटे कोशी में 160 मीटर गहरी खाई पर छह माह का विशेष प्रशिक्षण देने की व्यवस्था की गयी है। उन्होंने दैनिक जागरण को विशेष बातचीत में कहा कि एशिया महाद्वीप की अधिक ऊंचाई वाला खासा किसी भी बंजी जंप के लिए आदर्श है। मैं कोनयोन स्विंग कर चुका हूं। इस दौरान मैं 160 मीटर ऊंची, 240 मीटर स्विंग व 150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से छलांग लगा चुका हूं। भविष्य में उसी जगह से उल्टे तरीके से छलांग मारने की इच्छा है। बंजी जंप व्यवसायिक दृष्टिकोण से सिक्किम का सिंगसोर पुल भी उपयुक्त है, लेकिन आवश्यक ढांचों के विकास तथा प्रशिक्षित व्यक्तियों की कमी को पूरी करनी चाहिए, ताकि साहसिक अभियानों से जुड़े पर्यटक बंजी जंप के प्रति आकर्षित हो सकें।